मुख्य पृष्ठ   
  English Version
     
 
 
 
       संगठनात्मक ढांचा
       क्षेत्रों के प्रचालन
       उपलब्धियाँ
       परिणाम
       जिलेवार आवंटन
क्षेत्रों के प्रचालन

 
 
[ View Video ]   
 

निगम का मुख्य उद्देश्य उपभोक्ताओं को आवश्यक वस्तुओं को उचित मूल्यों पर उपलब्ध कराना, खाद्यान्‍नों, तेलों, बीजों तथा अन्य कृषि उत्पादों की खरीद, भण्डारण, संचालन, वितरण तथा विक्रय करना एवं रबी क्रय योजना के माध्यम से किसानों को मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत उचित मूल्य दिलाना है, इसके साथ ही भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा सौंपे गये इसी प्रकार के अन्य कार्यो को भी संपन्न करना इस निगम का अनुशाँगिक उद्देश्य है।

विगत वर्षो में निगम द्वारा मुख्य रूप से मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत गेहूँ खरीद कार्य, कपड़े का व्यवसाय, सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत डोर स्टेप डिलीवरी का कार्य, खाद्य तेल का व्यवसाय तथा अपने जनता स्टोरों एवं सचल जनता स्टोरों के माध्यम से दैनिक उपयोग में आने वाली अन्य आवश्यक वस्तुओं का व्यापार किया जाता रहा है, परन्तु जनता स्टारों/सचल जनता स्टोरों द्वारा किये जाने वाला व्यवसाय बाद में अलाभकारी सिद्ध हुआ, जिससे निगम के यह व्यवसाय बन्द करना पड़ा। इसी प्रकार निगम का मुख्य व्यवसाय कपड़ा तथा खाद्य तेल का व्यवसाय भी शासन की परिवर्तित नीति के कारण बन्द करना पड़ा।

वित्तीय वर्ष 2003-2004 में निगम द्वारा शासन की मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत रबी एवं धान क्रय योजना का कार्य तथा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत 24 जनपदों, लखनऊ, सीतापुर, हरदोई, लखीमपुर खीरी, पीलीभीत, बरेली, शाहजहाँपुर, मुराबाबाद, ज्योतिबाफूले नगर, बदायूँ, रामपुर, गोन, बलरामपुर, बहराइच, श्रावस्ती, वाराणसी, बाँदा, चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, ललितपुर, जालौन, झाँसी और इलाहाबाद में शहरी एवम् ग्रामीण क्षेत्रों में ए.पी.एल., बी.पी.एल. अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत डोर स्टेप डिलीवरी का कार्य, अन्नपूर्णा योजना के कार्य, मध्यान भोजन योजना एवं स्वरोजगार ग्रामीण योजना के अन्तर्गत खाद्यान की आपूर्ति का कार्य प्रमुख रूप से किया गया है, इसके साथ ही ईट-भट्टा निर्माताओं के प्रयोगार्थ स्लैक कोल  का व्यापार शासन की नीतियों के अन्तर्गत निगम द्वारा किया गया है तथा निगम द्वारा अपने जनता स्टोरो/सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों के माध्यम से गेहूँ, चावल, चीनी मिट्टी का तेल, राशन कार्ड धारकों को उपलब्ध कराया गया है। लखनऊ, हाथरस एवं फैजाबाद कस्बे में कुकिंग गैस वितरण का कार्य भी किया गया है। इसके अतिरिक्त निगम द्वारा अन्तर्राज्यीय व्यवसाय भी किया गया है।